Earth Quotes in Hindi

कोई भी शक्ति नहीं है

धरती पर ऐसी कोई भी शक्ति नहीं है जो एक उच्च, सरल और उपयोगी जीवन के प्रभाव को बेअसर कर सकता है.
– Booker T. Washington

Tags:

पृथ्वी पर तीन रत्न हैं

पृथ्वी पर तीन रत्न हैं। जल, अन्न और सुभाषित लेकिन अज्ञानी पत्थर के टुकड़े को ही रत्न कहते हैं।
– Kalidas

Tags:

लालच पूरा करने के लिए नहीं

पृथ्वी सभी मनुष्यों की ज़रुरत पूरी करने के लिए पर्याप्त संसाधन प्रदान करती है,लेकिन लालच पूरा करने के लिए नहीं.
– Mahatma Gandhi

Tags:

मूर्खो को लगता है

इस धरती पर अन्न, जल और मीठे वचन ये असली रत्न है. मूर्खो को लगता है पत्थर के टुकड़े रत्न है.
– Chanakya

Tags:

पृथ्वी सत्य की शक्ति द्वारा समर्थित है

पृथ्वी सत्य की शक्ति द्वारा समर्थित है; ये सत्य की शक्ति ही है जो सूरज को चमक और हवा को वेग देती है; दरअसल सभी चीजें सत्य पर निर्भर करती हैं.
– Chanakya

Tags:

पृथ्वी पर हर एक चीज एक खेल है

पृथ्वी पर हर एक चीज एक खेल है। एक खत्म हो जाने वाली चीज। हम सभी एक दिन मर जाते हैं। हम सभी का एक ही अंत है , नहीं ?
– Pele

Tags:

उधार में लेते हैं

हमें यह ग्रह हमारे पूर्वजों से उत्तराधिकार में नहीं मिला ,हम इसे अपने बच्चों से उधार में लेते हैं.
– American Saying

संसाधन प्रदान करती है

पृथ्वी सभी मनुष्यों की ज़रुरत पूरी करने के लिए पर्याप्त संसाधन प्रदान करती है , लेकिन लालच पूरा करने के लिए नहीं.
– Mahatma Gandhi

Tags:

हमें कुछ ख़ास बनाता है

हम एक औसत तारे के छोटे से ग्रह पर रहने वाली बंदरों की एक अन्नत नस्ल हैं . लेकिन हम ब्रह्माण्ड को समझ सकते हैं। ये हमें कुछ ख़ास बनाता है ।
– Stephen Hawking

Tags:

पृथ्वी

पृथ्वी हमारी नहीं हम पृथ्वी के हैं.
– Chief Seattle

Tags:

हम इतनी दूर चाँद का पता लगाने आये

हम इतनी दूर चाँद का पता लगाने आये , और जो सबसे ज़रूरी चीज है वो ये कि हमने पृथ्वी को खोज लिया.
– William A. Anders

Tags:

हम ऐसे बिंदु पर पहुँच रहे हैं

हम ऐसे बिंदु पर पहुँच रहे हैं जहाँ हमने पृथ्वी पर जो बोझ रखा है यदि उसे खुद नहीं हटाते तो पृथ्वी को उसे हटाना होगा.
– Steven M.Greer

Tags:

वो स्वतंत्र हो जाता है

जन्म से ही , इंसान अपने कन्धों पर गुरुत्वाकर्षण का बोझ उठाये रहता है . वह पृथ्वी से बंधा रहता है. लेकिन एक व्यक्ति को बस सतह से थोडा नीचे जाना होता है और वो स्वतंत्र हो जाता है .
– Jacques Yves Cousteau

Tags:

ये गृह मर रहा है

ये गृह मर रहा है. मानवजाति इसे नष्ट कर रही है… अगर पृथ्वी मरती है , तुम मरते हो. अगर तुम मरते हो पृथ्वी जीती है.
– Arthur Tofte

Tags:

मैं यहाँ नर्क में हूँ

किसने ये दुनिया बनायी मैं नहीं जानता ; ये बन चुकी है , और मैं यहाँ नर्क में हूँ.
– A.E. Housman

Tags:

पृथ्वी माँ

पृथ्वी माँ इतना अधिक रोइं कि उनके पास खुशियों की ज़मीन से अधिक आंसुओं के दरिये हैं .
– Santosh Kalwar

Tags:

एक पल कीमती है

इस नीले चमकते ग्रह पर बीताया हर एक पल कीमती है इसलिए इसे सावधानी से प्रयोग करो .
– Santosh Kalwar

Tags:

बर्वादी

बर्वादी आपराधिक है .
– Kristin Cashore

Tags:

पृथ्वी एक बच्चे की तरह है

फिर से बसंत आ गया है. पृथ्वी एक बच्चे की तरह है जिस कविताएँ अच्छी तरह से याद हैं.
– Rainer Maria Rilke

Tags:

परमाणु दुर्घटना से भी बदतर है

क्योंकि प्रकृति के लिए सामान्य मानव गतिविधि इतिहास में घटी सबसे बड़ी परमाणु दुर्घटना से भी बदतर है.
– Martin Cruz Smith

Tags:

Page 1 of 3123