Enemy Quotes in Hindi

शत्रु के साथ मृदुता

शत्रु के साथ मृदुता का व्यवहार अपकीर्ति का कारण बनता है और पुरुषार्थ यश का।
– Ram Naresh Tripathi

Comments Off on शत्रु के साथ मृदुता

Tags:

आपके शत्रु है

आपके शत्रु है?अच्छी बात है इसका मतलब है आप जीवन मै किसी मूल्य के लिये कभी न कभी दृढ़ता से खड़े हुए है।
– Virgil

Comments Off on आपके शत्रु है

Tags:

दोस्त की दुश्मनी

दुश्मन की दोस्ती मिलने से बेहतर है दोस्त की दुश्मनी।
– Pythagoras

Comments Off on दोस्त की दुश्मनी

Tags:

चुप्पी याद रहती है

अंत में, दुशमनों के कहे शब्द नहीं दोस्तों की चुप्पी याद रहती है।
– Martin Luther King Jr.

Comments Off on चुप्पी याद रहती है

Tags:

लड़ने आया है

अगर आपका दुश्मन बिना हथियारों के लड़ने आया है तो अच्छी बात है। लेकिन अगर वह हथियार छोड़ना नहीं चाहता है तो उसके हथियारों को खुद उतारने की तैयारी करके जाइये।
– Joseph Stalin

Comments Off on लड़ने आया है

Tags:

शत्रु तो पराजित ही हैं

जो धुरंधर महापुरुष आपत्ति पड़ने पर कभी दुखी नहीं होता, बल्कि सावधानी के साथ उद्योग का आश्रय लेता है तथा समयपर दुःख सहता है, उसके शत्रु तो पराजित ही हैं।
– Anonymous

Comments Off on शत्रु तो पराजित ही हैं

बाहरी शत्रु उतनी हानि नहीं कर सकते

बाहरी शत्रु उतनी हानि नहीं कर सकते , जितनी अंतः शत्रु करते हैं।
– Shriram Sharma Acharya

Comments Off on बाहरी शत्रु उतनी हानि नहीं कर सकते

Tags:

एक दुश्मन को मिटाने का सबसे अच्छा तरीका है

एक दुश्मन को मिटाने का सबसे अच्छा तरीका है कि उसे दोस्त बना लो.
– Abraham Lincoln

Comments Off on एक दुश्मन को मिटाने का सबसे अच्छा तरीका है

Tags:

दुश्मन का लोहा गर्म भले ही हो

दुश्मन का लोहा गर्म भले ही हो ,पर हथौड़ा तो ठंडा ही काम दे सकता है |
– Anonymous

Comments Off on दुश्मन का लोहा गर्म भले ही हो

अहिंसा अच्छी चीज है

अहिंसा अच्छी चीज है, लेकिन शत्रुहीन होना अच्छी बात है |
– Anonymous

Comments Off on अहिंसा अच्छी चीज है

उनके नाम कभी न भूलें

अपने दुश्मनों को माफ कर दें , लेकिन उनके नाम कभी न भूलें |
– Anonymous

Comments Off on उनके नाम कभी न भूलें

मन लगाकर करो

शत्रु को पराजित करने के लिए ढाल तथा तलवार की आवश्यकता होती है। इसलिए अंग्रेज़ी और संस्कृत का अध्ययन मन लगाकर करो।
– Swami Vivekananda

Comments Off on मन लगाकर करो

Tags: