Nature Quotes in Hindi

चिकित्सा पद्धति है

आयुर्वेद हमारी मिट्टी हमारी संस्कृति व प्रकृती से जुड़ी हुई निरापद चिकित्सा पद्धति है।
– Anonymous

Comments Off on चिकित्सा पद्धति है

उग्र बनाता है

आहार से मनुष्य का स्वभाव और प्रकृति तय होती है, शाकाहार से स्वभाव शांत रहता है, मांसाहार मनुष्य को उग्र बनाता है।
– Anonymous

Comments Off on उग्र बनाता है

धीरे-धीरे होते है

प्रकृति के सब काम धीरे-धीरे होते है।
– Anonymous

Comments Off on धीरे-धीरे होते है

हंसी बनाई है

प्रकृति ने हमारे भीतरी अंगों के व्यायाम के लिए और हमें आनंद प्रदान करने के लिए ही हंसी बनाई है ..
– Orison Swett Marden

Comments Off on हंसी बनाई है

Tags:

प्रकृति को बुरा-भला न कहो

प्रकृति को बुरा-भला न कहो। उसने अपना कर्तव्य पूरा किया, तुम अपना करो।
– John Milton

Comments Off on प्रकृति को बुरा-भला न कहो

Tags:

कुछ कोशिशें नाकाम होंगी

कुछ कोशिशें नाकाम होंगी, ये प्रकृति का नियम है.
– Anonymous

Comments Off on कुछ कोशिशें नाकाम होंगी

ज्ञान का भंडार है

प्रकृति अपरिमित ज्ञान का भंडार है, पत्ते-पत्ते में शिक्षापूर्ण पाठ हैं, परंतु उससे लाभ उठाने के लिए अनुभव आवश्यक है।
– Anonymous

Comments Off on ज्ञान का भंडार है

ज्ञान का भंडार है

प्रकृति अपरिमित ज्ञान का भंडार है, परंतु उससे लाभ उठाने के लिए अनुभव आवश्यक है।
– Anonymous

Comments Off on ज्ञान का भंडार है

पेड़ बढ़ चुके थे

पेड़ बढ़ चुके थे! वे आगे बढ़ रहे थे. दुनिया के एक छोटे से कोने में, दादा का सपना सच हो रहा था और पेड़ फिर से बढ़ रहे थे.
– Ruskin Bond

Comments Off on पेड़ बढ़ चुके थे

Tags:

चीज़ों से लगाव होता है

प्रकृति से जुड़े लोगों का सिर्फ साधारण चीज़ों से लगाव होता है।
– Johannes Kepler

Comments Off on चीज़ों से लगाव होता है

Tags:

प्रकृति या पर्यावरण

प्रकृति या पर्यावरण हर चीज़ का कम से कम फायदा लेना पसंद करते है।
– Johannes Kepler

Comments Off on प्रकृति या पर्यावरण

Tags:

Ped Bachao

Duniya Main Aadmi He Ek Matra Aisa Prani Hai Jo Ped Katta Hai, Uska Kagaz Banta Hai Aur Upar Likhta Hai ” Ped Bachao” !
– Anonymous

Comments Off on Ped Bachao

वृक्ष झुक जाते हैं

फल के आने से वृक्ष झुक जाते हैं, वर्षा के समय बादल झुक जाते हैं, संपत्ति के समय सज्जन भी नम्र होते हैं, परोपकारियों का स्वभाव ही ऐसा है।
– Anonymous

Comments Off on वृक्ष झुक जाते हैं

किसी का सरल स्वभाव

किसी का सरल स्वभाव उसकी कमज़ोरी नही होता है।
– Anonymous

Comments Off on किसी का सरल स्वभाव

पृथ्वी पर तीन रत्न हैं

पृथ्वी पर तीन रत्न हैं -जल अन्न और सुभाषित । लेकिन मुर्ख लोग पत्थर को ही रत्न कहते रहते हैं ।
– Anonymous

Comments Off on पृथ्वी पर तीन रत्न हैं

निर्भर करता है

जो तुम आज हो वो तुम अपने कल के कारण हो, और जो तुम आने वाले कल में होंगे, वो तुम्हारे आज के काम पर निर्भर करता है।
– Anonymous

Comments Off on निर्भर करता है

प्रकृति ही है

प्रकृति ही है जिससे हम सभी एक सूत्र में बंधे हैं।
– Anonymous

Comments Off on प्रकृति ही है

प्रकृति

प्रकृति के सब काम धीरे-धीरे होते है.
– Anonymous

Comments Off on प्रकृति

प्रकृति जल्दबाजी नहीं करती

प्रकृति जल्दबाजी नहीं करती , फिर भी सारी चीजें पूरी हो जाती हैं.
– Lao Tzu

Comments Off on प्रकृति जल्दबाजी नहीं करती

Tags:

प्रकृति

प्रकृति कभी अपने नियम नहीं तोड़ती।
– Leonardo da Vinci

Comments Off on प्रकृति

Tags:

Page 1 of 41234