Politics Quotes in Hindi

विचार के लिए ठीक नहीं है

पूर्ण रूप से आन्दोलनकारी रवैया किसी विषय के गहन विचार के लिए ठीक नहीं है.
– Jawaharlal Nehru

Comments Off on विचार के लिए ठीक नहीं है

Tags:

सह- विनाश

सह- अस्तित्व का केवल एक विकल्प है सह- विनाश.
– Jawaharlal Nehru

Comments Off on सह- विनाश

Tags:

सबकुछ पा चुका है

जो व्यक्ति जो सबकुछ पा चुका है वह हर एक चीज शांति और व्यवस्था के पक्ष में चाहता है.
– Jawaharlal Nehru

Comments Off on सबकुछ पा चुका है

Tags:

गरीब बना देंगी

यदि पूंजीवादी समाज की शक्तियों को अनियंत्रित छोड़ दिया जाए तो वो अमीर को और अमीर और गरीब को और गरीब बना देंगी.
– Jawaharlal Nehru

Comments Off on गरीब बना देंगी

Tags:

समाजवाद

समाजवाद…ना केवल जीने का तरीका है, बल्कि सामजिक और आर्थिक समस्यों के निवारण के लिए एक वैज्ञानिक दृष्टिकोण है.
– Jawaharlal Nehru

Comments Off on समाजवाद

Tags:

शांति राष्ट्रों का सम्बन्ध नहीं है

शांति राष्ट्रों का सम्बन्ध नहीं है. यह एक मन: स्थिति है जो आत्मा की निर्मलता से आती है . शांति सिर्फ युद्ध का अभाव नहीं है.यह मन की एक अवस्था है.
– Jawaharlal Nehru

Comments Off on शांति राष्ट्रों का सम्बन्ध नहीं है

Tags:

हर एक हमलावर

हर एक हमलावर राष्ट्र की यह दावा करने की आदत होती है कि वह अपनी रक्षा के लिए कार्य कर रहा है.
– Jawaharlal Nehru

Comments Off on हर एक हमलावर

Tags:

लोकतंत्र अच्छा है

लोकतंत्र अच्छा है . मैं ऐसा इसलिए कह रहा हूँ क्योंकि बाकी व्यवस्थाएं और बुरी हैं.
– Jawaharlal Nehru

Comments Off on लोकतंत्र अच्छा है

Tags:

लोकतंत्र और समाजवाद

लोकतंत्र और समाजवाद लक्ष्य पाने के साधन है, स्वयम में लक्ष्य नहीं.
– Jawaharlal Nehru

Comments Off on लोकतंत्र और समाजवाद

Tags:

निर्देशित किया जाना चाहिए

कार्य के प्रभावी होने के लिए उसे स्पष्ठ लक्ष्य की तरफ निर्देशित किया जाना चाहिए.
– Jawaharlal Nehru

Comments Off on निर्देशित किया जाना चाहिए

Tags:

एक नेता

एक नेता या कर्मठ व्यक्ति संकट के समय लगभग हमेशा ही अवचेतन रूप में कार्य करता है और फिर अपने किये गए कार्यों के लिए तर्क सोचता है.
– Jawaharlal Nehru

Comments Off on एक नेता

Tags:

राजा का हित नहीं है

प्रजा के सुख में ही राजा का सुख और प्रजाओं के हित में ही राजा को अपना हित समझना चाहिए। आत्मप्रियता में राजा का हित नहीं है, प्रजाओं की प्रियता में ही राजा का हित है।
– Chanakya

Comments Off on राजा का हित नहीं है

Tags:

चुनाव आप आज करेंगे

जो चुनाव आप आज करेंगे, वह आमतौर पर आपके कल को प्रभावित करेंगे।
– Anonymous

Comments Off on चुनाव आप आज करेंगे

क़ानून और व्यवस्था

क़ानून और व्यवस्था राजनीतिक शरीर की दवा है और जब राजनीतिक शरीर बीमार पड़े तो दवा ज़रूर दी जानी चाहिए .
– B. R. Ambedkar

Comments Off on क़ानून और व्यवस्था

Tags:

राजनीति में कभी पीछे नहीं हटना

राजनीति में कभी पीछे नहीं हटना, कभी अपने शब्द वापस नहीं लेना और कभी अपनी गलती नहीं स्वीकारना।
– Napoleon Bonaparte

Comments Off on राजनीति में कभी पीछे नहीं हटना

Tags:

घोषणा नहीं हो जाती है

राजनीति में तब तक किसी बात पर विश्वास मत करिये जब तक उस बात की घोषणा नहीं हो जाती है।
– Bismarck

Comments Off on घोषणा नहीं हो जाती है

Tags:

तबाह कर सकती है

राजनीति, आपके चरित्र को तबाह कर सकती है।
– Bismarck

Comments Off on तबाह कर सकती है

Tags:

बिलकुल सही है

राजनीति को विज्ञान कहना बिलकुल सही है।
– Bismarck

Comments Off on बिलकुल सही है

Tags:

कला की तरह है

राजनीति करना किसी खूबसूरत कला की तरह है।
– Bismarck

Comments Off on कला की तरह है

Tags:

अधिनायकवादी राज्य

अधिनायकवादी राज्य की सबसे बड़ी शक्ति यह है कि जो लोग उसका अनुसरण करने से डरते हैं वो उसपर बल प्रयोग करता है .
– Adolf Hitler

Comments Off on अधिनायकवादी राज्य

Tags:

Page 1 of 3123