Lord Buddha in Hindi

वर्तमान क्षण में केंद्रित करना

अतीत में ध्यान केन्द्रित नहीं करना , ना ही भविष्य के लिए सपना देखना , बल्कि अपने mind को वर्तमान क्षण में केंद्रित करना .
– Lord Buddha

बीमारी का लेखक है

हर इंसान अपने स्वास्थ्य या बीमारी का लेखक है.
– Lord Buddha

सक्षम नहीं हो पाएंगे

अच्छे स्वास्थ्य में शरीर रखना एक कर्तव्य है … अन्यथा हम हमारे मन को मजबूत और साफ रखने के लिए सक्षम नहीं हो पाएंगे..
– Lord Buddha

दूसरों पर निर्भर मत रहो

आप अपने मोक्ष. पर खुद कार्य करो . दूसरों पर निर्भर मत रहो .
– Lord Buddha

गुस्से के द्वारा दंडित हुए हो

आप अपने गुस्से के लिए दंडित नहीं हुए , आप अपने गुस्से के द्वारा दंडित हुए हो |
– Lord Buddha

मन सब कुछ है

मन सब कुछ है. जो तुम सोचते हो वो तुम बनते हो |
– Lord Buddha

रास्ता दिल में से है

रास्ता आकाश में से नहीं. रास्ता दिल में से है.
– Lord Buddha

आप path नहीं बनोगे

तुम path की यात्रा नहीं कर सकता जब तक आप path नहीं बनोगे.
– Lord Buddha

अज्ञानी आदमी एक बैल है

अज्ञानी आदमी एक बैल है.ज्ञान में नहीं है, वह आकार में बढ़ता है.
– Lord Buddha

वश में कर लिया है

जिसने अपने को वश में कर लिया है, उसकी जीत को देवता भी हार में नहीं बदल सकते |
– Lord Buddha

किसी जंगली जानवर की अपेक्षा

किसी जंगली जानवर की अपेक्षा एक कपटी और दुष्ट मित्र से ज्यादा डरना चाहिए, जानवर तो बस आपके शरीर को नुकसान पहुंचा सकता है, पर एक बुरा मित्र आपकी बुद्धि को चोटिल कर सकता है.
– Lord Buddha

वश में कर लिया है

जिसने अपने को वश में कर लिया है, उसकी जीत को देवता भी हार में नहीं बदल सकते.
– Lord Buddha

आपका अतीत

आपका अतीत चाहे कितना भी बुरा रहा हो, आप हमेशा एक नई शुरुआत कर सकते है।
– Lord Buddha

आप रह चुके हैं

आप अभी वो हैं जो आप रह चुके हैं. आप बाद वो होंगे जो आप अभी करेंगे.
– Lord Buddha

क्षमा से क्रोध को जीतो

क्षमा से क्रोध को जीतो, भलाई से बुराई को जीतो, दरिद्रता को दान से जीतो और सत्य से असत्यवादी को जीतो |
– Lord Buddha

झूठ सबसे बड़ा पाप है

झूठ सबसे बड़ा पाप है, झूठ की थैली में अन्‍य सभी पाप समा सकते हैं, झूठ को छोड़ दो तो तुम्‍हारे अन्‍य पाप कर्म धीरे-धीरे स्‍वत: ही छूट जाएंगे ।
– Lord Buddha

आप रह चुके हैं

आप अभी वो हैं जो आप रह चुके हैं. आप बाद वो होंगे जो आप अभी करेंगे.
– Lord Buddha

शूद्र या ब्राह्मण होता है

मनुष्य जन्म से नहीं बल्कि कर्म से शूद्र या ब्राह्मण होता है।
– Lord Buddha

विजय पाना आसान है

हज़ार योद्धाओं पर विजय पाना आसान है, लेकिन जो अपने ऊपर विजय पाता है वही सच्चा विजयी है।
– Lord Buddha

ध्यान ज्ञान होता है

ध्यान ज्ञान होता है, मध्यस्थता की कमी के कारण अज्ञानता के पत्तों को अच्छी तरह से क्या आगे ले जाता है और क्या तुम वापस पकड़ पता है, और ज्ञान की ओर जाता है कि पथ का चयन करें।
– Lord Buddha

Page 1 of 3123