Premchand in Hindi

भाग्य पर वह भरोसा करता है

भाग्य पर वह भरोसा करता है, जिसमें पौरुष नहीं होता।
– Premchand

खाने और सोने

खाने और सोने का समय जीवन नहीं है, जीवन नाम है सदेव आगे बढ़ने की लगन का नाम है।
– Premchand

शक्ति अपने आप ही आजाती है

जब हम कोई काम करने की इच्छा करते हैं तो शक्ति अपने आप ही आजाती है।
– Premchand

नम्रता

नम्रता पत्थर को भी माँ कर देती है |
– Premchand

खाने और सोने का नाम

खाने और सोने का नाम जीवन नहीं। जीवन नाम है सदैव आगे बढ़ने का।
– Premchand

माँ कर देती है

नम्रता पत्थर को भी माँ कर देती है |
– Premchand

मतभेद होना स्वाभाविक है

मतभेद होना स्वाभाविक है, लेकिन जिन से मतभेद हो, उन्हें नीच न समझें। जिसे आप नीचा समझेंगे, वह भी आपकी पूजा नहीं करेगा।
– Premchand

ऐसा आदर्श है

कर्तव्य ही ऐसा आदर्श है, जो कभी धोखा नहीं दे सकता |
– Premchand

दाँत से पकड़ता है

पैसेवाले पैसे की कदर क्या जानें ? पैसे की कदर तब होती है, जब हाथ खाली हो जाता है | तब आदमी एक-एक कौड़ी दाँत से पकड़ता है |
– Premchand

याद आती है

आकाश में उड़ने वाले पंछी को भी अपने घर की याद आती है।
– Premchand

चापलूसी का ज़हरीला प्याला

चापलूसी का ज़हरीला प्याला आपको तब तक नुकसान नहीं पहुँचा सकता जब तक कि आपके कान उसे अमृत समझ कर पी न जाएँ।
– Premchand

अधिक आकर्षित होते हैं

महान व्यक्ति महत्वाकांक्षा के प्रेम से बहुत अधिक आकर्षित होते हैं।
– Premchand

मन एक भीरु शत्रु है

मन एक भीरु शत्रु है जो सदैव पीठ के पीछे से वार करता है।
– Premchand

कुल की प्रतिष्ठा

कुल की प्रतिष्ठा भी विनम्रता और सदव्यवहार से होती है, हेकड़ी और रुआब दिखाने से नहीं।
– Premchand

स्वाभाविक गुण है

दया मनुष्य का स्वाभाविक गुण है।
– Premchand

प्रेम का नाता

प्रेम का नाता संसार के सभी संबंधो से पवित्र और श्रेष्ठ है।
– Premchand

वह है सेवा

प्रेम का एक ही मूलमंत्र है और वह है सेवा।
– Premchand

प्रेम असीम विश्वास है

प्रेम असीम विश्वास है, असीम धैर्य है और असीम बल है।
– Premchand

खाने और सोने का नाम जीवन नहीं

खाने और सोने का नाम जीवन नहीं। जीवन नाम है सदैव आगे बढ़ने का।
– Premchand

ह्रदय को ज्यादा दुखाता है

क्रोध में मनुष्य अपने मन की बात कहने के बजाय दूसरों के ह्रदय को ज्यादा दुखाता है।
– Premchand

Page 1 of 3123